Latest News

करोड़ो खर्च के बाद भी शहर में गन्दगी का अंबार

N7News Admin 14-03-2019 09:17 PM धनबाद

शहर में गन्दगी का अंबार।



Reported by: बिपिन कुमार

धनबाद।

धनबाद शहर स्वछता रैंकिंग में भले ही सुधार हुआ है। मगर स्वछता सर्वेक्षण ख़त्म होते ही शहर की सड़को और गली मोहल्लो में गंदिगी का अंबार दिखने लगा है. इससे साफ दिख रहा है कि चार दिन की चांदनी फिर अंधेरी रात वाला कहावत फिट बैठता है. 

धनबाद सफाई में करता है 1.5 करोड़ खर्च :

धनबाद शहर को स्वच्क्षता के मामले में भले ही 56वा स्थान मिला है. वही इस रैंकिंग को पाने के लिए धनबाद नगर निगम के सफाई कर्मियों ने दिन रात लग कर यह स्थान पाया। मगर अब शहर की हालत देख लगता है कि नगर निगम सिर्फ रैंकिंग में सुधार के लिए ही दिन रात सफाई कर्मी काम कर रहे थे. वही समय समय पर नगर आयुक्त भी शहर का मुआयना कर सफाई का जायजा लिया करते थे। बता दे कि धनबाद नगर निगम प्रति माह करीब 1 . 5 करोड़ की खर्च सफाई व्यवस्था को दुरुस्त करने में लगती है। 

नगर आयुक्त चंद्र मोहन कश्यप ने कहा कि नगर निगम क्षेत्र में सफाई का काम डोर टू डोर लगातार चल रहा है. रूटीन वर्क में लगातार इसकी निगरानी की जा रही है. प्रत्येक सप्ताह इसका निरक्षण भी कराया जाता है. हम लगातार प्रयास में रहते है कि धनबाद को स्वच्क्ष और स्वस्थ वातावरण दे सके.  उन्होंने कहा की रांची सफाई मद में 6 करोड़ प्रतिमाह खर्च करता है. वही धनबाद मात्र एक करोड़ अस्सी लाख खर्च करता है किन्तु रांची की तुलना में धनबाद नगर निगम कही पर भी कम नहीं है। लेकिन इसे प्रयाप्त नहीं कहा जा सकता।  हमलोग डोर टू डोर पिछड़े हुए है | 

गन्दगी का लगा रहता है अंबार: 

स्थानीय लोगो का कहना है कि स्वच्छता सर्वेक्षण में रैंक सुधारने के लिए धनबाद नगर निगम रेस थी। मगर शहर की गन्दगी देख कर ऐसा लगता है की निगम के पास पैसा ही नहीं है जिसके कारन धनबाद शहर में गन्दगी का अम्बार लगा है. अब ऐसे में धनबाद नगर निगम स्वच्छता सर्वेक्षण में रैंक कैसे सुधारेगी। साथ ही जगह जगह गन्दगी का अंबार देखा जा सकता है। 





रिलेटेड पोस्ट