Latest News

राजस्थान-MP में ढोल-डीजे बजाकर किसान कर रहे टिड्डियों से मुकाबला

N7News Admin 28-05-2020 09:22 AM देश

जयपुर में टिड्डियों का हमला ।



बीकानेर


नई दिल्ली ।

पाकिस्तान की ओर से आए टिड्डों को भगाने के जतन नाकाफी हो रहे हैं. भारत के कई राज्यों में लाखों-करोड़ों की तादाद में पाकिस्तान की ओर से आए टिड्डों ने सिर्फ किसानों को बल्कि सरकार को भी परेशान कर रखा है.

दरअसल, लाखों की संख्या में पाकिस्तान की ओर से टिड्डे भारत में घुस आया है और भारत के अलग-अलग इलाकों में किसानों की फसलों को चट कर रहा है । इन टिड्डियों को भगाने के लिए अलग-अलग कोशिशें की जा रही है। मगर अबतक सब बेअसर से दिख रहे हैं.

राजस्थान के श्रीगंगानगर में टिड्डी ने हमला किया है. बाड़मेर में टिड्डियों का हमला इस कदर है कि जिला प्रशासन, बीएसएफ और फायर बिग्रेड की मदद ले रहा है. राजस्थान के ही करौली से धौलपुर की सीमा में करीब 5 किलोमीटर आकार का टिड्डियों का दल घुस आया है. किसान अपनी फसल बचाने के लिए टीन बजाकर इन्हें खेतों से भगाने का उपाय कर रहे हैं।

टिड्डियों के झुंड को देख ग्रामीणों में दहशत फैल गई है. ग्रामीणों ने धुंआ और आवाज लगाकर टिड्डियों के दल को भगाया. रीवा में टिड्डी दल राजस्थान सीमा से निकलकर मध्य प्रदेश की सीमा में घुस गया. टिड्डी दल के आते ही यहां किसानों ने टोली बनाकर ढोल, डीजे, थाली, टीन के डिब्बे बजाकर और ट्रैक्टर के सायलेंसर निकाल अपने क्षेत्र से टिड्डियों को भगाया. पेड़-पौधों पर बैठे हुए टिड्डी दल को मारने के लिए फायर ब्रिगेड द्वारा कीटनाशकों के घोल का छिड़काव किया गया।

एमपी के भितरवार में भी टिड्डी दल ने हमला किया. यहां भी किसान तमाम तरह के उपाय कर टिड्डी दल को भगाते नजर आए. कुछ ने मोटरसाइकिल का सायलेंसर निकाल कर उससे गोली जैसी आवाज निकाल कर टिड्डों को भगाया. सतना में भी यही हाल है। लोग टिड्डियों को भगाने की जतन में लगे हैं।

टिड्डियों के चलते किसानों के हालात बिगड़ रहे हैं, राजस्थान और मध्य प्रदेश के अलावा महाराष्ट्र में भी टिड्डियों का आतंक है.

कोरोना के महामारी संकट के बीच अब टिड्डे नई मुसीबत बनकर आ गए हैं. इस भयानक संकट काल में पाकिस्तान की ओर से आए टिड्डे नई परेशानी बन गई हैं. इन पर काबू नहीं पाया गया तो ये बड़ी तादाद में फसल बर्बाद कर देंगे. किसान परेशान हैं, पहले ही कोरोना को लेकर ज़्यादातर चीज़े बन्द है और अब टिड्डियों का आतंक फसलों को नुकसान पहुंचा रहा। 


Lg





रिलेटेड पोस्ट